Add Your Blog | | Signup
Laxmirangam · 3W ago

मेरी चिडिया है बीमार,

मेरी चिडिया है बीमार, मेरी चिडिया है बीमार, नहीं उतरता उसे बुखार, वैद्य ने कर ली पट्टी चार, बेचारी चिडिया लाचार. इंजेक्शन भी बहुत लगाए, जाने कितनी दवा पिलाए, गोली खा खा मन भर आए कमता नह...
Laxmirangam · 1M ago

आधार --- किसका ???

आधार. आज जहाँ भी जाइए ... पेनकार्ड, मेबाईल, पासपोर्ट, इंश्यूरेंस पालिसी, डी मेट एकाउंट, ड्राईविंग लाईसेंस, एल पी जी, रेल्वे टिकट, बैंक एकाऊंट, गाड़ी, जेवर, प्लाट, मकान की खरीददारी ...
Laxmirangam · 1M ago

Aadhar --- overview.

Laxmirangam · 1M ago

एकाकी पंछी.

मेरे परिचित शिक्षिका श्रीमती मीना शर्मा जी की एक कविता प्रस्तुत है : एकाकी पंछी ********** जहाँ सूर्य डूबा, बसेरा वहीं ! खुले दृग जहाँ पर, सबेरा वहीं ! मैं एकाकी पंछी, विलग यूथ से ना झंझा ...
Laxmirangam · 2M ago

संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षापरिषद और वीटो.

संयुक्त राष्ट्र संघ की सुरक्षापरिषद और वीटो. अभी पूरे विश्व की नजर उत्तरी कोरिया पर है. कब वह खुराफात करे और भयंकर अंजाम हो जाएं, यह कोई नहीं जानता. खासकर उसकी नजर संयुक्त राष्ट्र अमेर...
Laxmirangam · 2M ago

आँखों देखी.

आज दिन में एक वाट्सप फ्रेंड ने यह आँखों देखी खबर भेजा. आप सब के रसास्वादन हेतु प्रस्तुत है... आँखों देखी     एक चिड़ा लगातार कोशिश कर रहा है      अपने बच्चे को उड़ना सिखाने की     ...
Laxmirangam · 2M ago

डिजिटल इंडिया - मेरा अनुभव.

डिजिटल इंडिया – मेरा अनुभव. उस दिन मेरे मोबाईल पर फ्लेश आया. यदि आप जिओ का सिम घर बैठे पाना चाहते हैं तो यहाँ क्लिक करें. मैंने क्लिक कर दिया. मुझे अपना नाम पता, आधार नंबर देने को कहा गय...
Laxmirangam · 2M ago

राष्ट्र गान का आदर

राष्ट्र गान का आदर हाल ही में एक खबर पढ़ने को मिली – सुप्रीम कोर्ट ने अपने पुराने न्याय पर पुनर्विचार कर सरकार को निर्णय लेने को कहा है कि राष्ट्रगान को सिनेमा हाल में बजाने के बार...
Laxmirangam · 2M ago

साजन के गाँव में.

साजन के गाँव में. आज मत रोको मुझे, साजन के गाँव में, सुनो मेरी छम छम, बिन पायल के पाँव में. आलता मँगाऊँगी मैं, मेंहदी  रचाऊँगी मैं, सासु, ननदों को भी, मेंहदी लगाऊँगी मैं.
Laxmirangam · 3M ago

धड़कन

धड़कन संग है तुम्हारा आजन्म, या कहें संग है हमारा आजन्म. छोड़ दे संग परछाईं जहाँ, उस घनेरी रात में भी, गर तुम नहीं हो साथ,  तो जिंदगी का खेल  समाप्त  !!!!! क्यों लगी हो ह...