Add Your Blog | | Signup
मुसाफ़िर हूँ यारों....Musafir Hoon · 1W ago

इंटरलाकन : दो झीलों के बीच बसा केन्द्रीय आल्प्स का प्रवेश द्वार ! Interlaken : Gateway to Central Alps Switzerland

सबसे पहले यूरोप के किसी देश में जाने की इच्छा हुई थी तो वो था स्विट्ज़रलैंड। दरअसल हमारे ज़माने में रोमांटिक फिल्मों का मतलब होता था यश चोपड़ा का बैनर। यश जी की फिल्मों की कहानियाँ तो दिल के ...
मुसाफ़िर हूँ यारों....Musafir Hoon · 3W ago

शांतिनिकेतन : जहाँ प्रकृति की गोद में बहती है शिक्षा की सरिता ! Shantiniketan, Bengal

रवींद्रनाथ टैगोर के रचे संगीत और साहित्य से थोड़ा बहुत परिचय तो पहले से था पर उनकी कर्मभूमि  शांतिनिकेतन को देखने की इच्छा कई दिनों से थी। कार्यालय के काम से दुर्गापुर तो कई बार जाता रहा पर क...
मुसाफ़िर हूँ यारों....Musafir Hoon · 1M ago

मिस्र के चतुरंगी मंदिर से लेकर बाहुबली के साम्राज्य तक : दुर्गापुर के शानदार पूजा पंडाल Top Durga Puja pandals of Durgapur, Bengal

दुर्गापुर मेरे लिए कोई नया शहर नहीं है। पिछले दो दशकों में यहाँ दर्जनों बार काम के सिलसिले में आना जाना हुआ है। शहर का केंद्र यहाँ का सिटी सेंटर है जिसके आस पास इस शहर के सबसे बेहतरीन होटल ह...
मुसाफ़िर हूँ यारों....Musafir Hoon · 1M ago

दुर्गा पूजा पंडाल परिक्रमा : राँची के शानदार पंडाल Top Durga Puja Pandals of Ranchi Part II

पंडाल परिक्रमा का पहला चरण तो यहाँ आपने देख ही लिया होगा।  दुर्गा पूजा पंडाल परिक्रमा के अगले चरण में आपको लिए चलते हैं राँची रेलवे स्टेशन क पंडाल में। रांची रेलवे स्टेशन का पंडाल हर साल एक ...
मुसाफ़िर हूँ यारों....Musafir Hoon · 1M ago

दुर्गा पूजा पंडाल परिक्रमा : राँची के शानदार पंडाल Top Durga Puja Pandals of Ranchi Part I

दुर्गा पूजा हर साल आती है धूमधाम के साथ मनाई जाती है और फिर माँ को विदा भी करना होता है। बचपन में पटना की पूजा देखी। स्टेशन से लेकर गाँधी मैदान, नाला रोड और फिर पैदल चलते चलते अशोक राजपथ तक ...
मुसाफ़िर हूँ यारों....Musafir Hoon · 1M ago

फ्रांस से अब चलते हैं स्विट्जरलैंड की ओर.. Road trip from Paris to Zurich

पिछले महीने आपको अपने ब्लॉग पर मैंने पेरिस की यात्रा करवाई और वहाँ से निकलते वक़्त मैंने लिखा था कि अब आपकी मुलाकात कराऊँगा यूरोप के एक ऐसे देश से जो निहायत ही खूबसूरत है। ये देश है स्विट्ज़...
मुसाफ़िर हूँ यारों....Musafir Hoon · 2M ago

झारखंड का सबसे ऊँचा और दुर्गम जलप्रपात लोध ! Highest waterfall of Jharkhand : Lodh Waterfalls

बरसों पहले किसी स्थानीय मित्र ने एक ऐसे जलप्रपात के बारे में बताया था जिसकी आवाज़ घने जंगलों के बीच से कई किमी पहले से सुनी जा सकती है। पलामू जिला तब नक्सलियों का गढ़ माना जाता था। सड़कों का ज...
मुसाफ़िर हूँ यारों....Musafir Hoon · 2M ago

कैसे खिल उठता है मानसून में नेतरहाट ? Netarhat in Monsoon !

जब हमने अगस्त के महीने में झारखंड की रानी कहे जाने वाले झारखंड के पर्वतीय स्थल नेतरहाट जाने का कार्यक्रम बनाया तो लोगों का पहला सवाल था बारिश के मौसम में नेतरहाट? प्रश्न कुछ हद तक सही था। ने...
मुसाफ़िर हूँ यारों....Musafir Hoon · 3M ago

आइए ले चलें आपको मानसूनी झारखंड की सड़कों पर.. Road journey through countryside of Jharkhand

पिछले बीस सालों में झारखंड में रहते हुए भी राँची, बोकारो, जमशेदपुर, धनबाद के आलावा अन्य इलाकों में जाना कम ही हुआ है। इसलिए इस बार अगस्त के दूसरे हफ्ते का लंबा सप्ताहांत नसीब हुआ तो मन में इ...
मुसाफ़िर हूँ यारों....Musafir Hoon · 3M ago

एफिल से लूवर तक की पैदल यात्रा और मिलना मोनालिसा से ! Eiffel Tower to Louvre Museum on foot !

एफिल टॉवर की ऊँचाइयों को छूने के बाद मेरे पास दो विकल्प थे। या तो पेरिस के मशहूर डिज्नीलैंड में धमाचौकड़ी मचाई जाए या फिर वहाँ की सड़कों पर चहलकदमी करते हुए कुछ वक़्त बिताया जाए। जापान के अत्य...