Add Your Blog | | Signup
Mohitness {मोहितपन} · 2d ago

Educational-Horror Comic: Samaj Levak (Freelance Talents)

New experimental genre mix, समाज लेवक (Samaj Levak) - Social Leech (Educational-Horror Comic)Illustrators: Anand Singh, Prakash Bhalavi (Bhagwant Bhalla), Author: Mohit Trendster, Colorist: ...
Mohitness {मोहितपन} · 4d ago

प्रतिक्रियाओं पर प्रतिक्रिया (सभी कलाकारों के लिए लेख) #ज़हन

हर प्रकार के रचनात्मक कार्य, कला को देखने वाले व्यक्ति की प्रतिक्रिया अलग होती है। यह प्रतिक्रिया उस व्यक्ति की पसंद, माहौल, लालन-पालन जैसी बातों पर निर्भर करती है। आम जनता हर रचनात्मक काम क...
Mohitness {मोहितपन} · 4d ago

हम सब (आंशिक) पागल हैं #लेख

मानसिक रूप से अस्थिर या गंभीर अवसाद में सामान्य से उल्टा व्यवहार करने वाले लोगों को पागल की श्रेणी में रखा जाता है। समाज के मानक अनुसार सामान्यता का प्रमाणपत्र लेना आसान है - आम व्यक्ति, अपन...
Mohitness {मोहितपन} · 1W ago

सड़ता हुआ मांस क्या कहेगा? (वीभत्स रस) #nazm #tribute

Revolutionary and Hindi writer Yashpal's 114th birth anniversary, The Government of India issued a commemorative Yashpal Centenary postage stamp (2003).आज क्रांतिदूत, लेखक यशपाल जी का जन्मदि...
Mohitness {मोहितपन} · 2W ago

"...और मैं अनूप जलोटा का सहपाठी भी था।"

*कलाकार श्री सत्यपाल सोनकरपिछले शादी के सीज़न से ये आदत बनायी है कि पैसों के लिफाफे के साथ छोटी पेंटिंग उपहार में देता हूँ। पेंटिंग से मेरा मतलब फ्रेम हुआ प्रिंट पोस्टर या तस्वीर नहीं बल्कि ह...
Mohitness {मोहितपन} · 2W ago

नयी कॉमिक - पगली प्रकृति (Vacuumed Sanctity Comic)

Comic: Pagli Prakriti - पगली प्रकृति (Vacuumed Sanctity), Hindi - 15 Pages. English version coming soon.Readwhere - https://goo.gl/r3snfZGoogle Play - https://goo.gl/Drp1BsIssuu - https://go...
Mohitness {मोहितपन} · 2W ago

यादों की तस्वीर (लघु-कहानी)

आज रश्मि के घर उसके कॉलेज की सहेलियों का जमावड़ा था। हर 15-20 दिनों में किसी एक सहेली के घर समय बिताना इस समूह का नियम था। आज रश्मि की माँ, सुमित्रा से 15 साल बड़ी मौसी भी घर में थीं। रश्मि - ...
Mohitness {मोहितपन} · 3W ago

दो प्रकार के कलाकार (लेख) #freelance_talents

Artwork - Matt S.एक कला क्षेत्र के प्रशंसक, उस से जुड़े हुए लोग उस क्षेत्र में 2 तरह के कलाकारों के नाम जानते हैं। पहली तरह के कलाकार जिनके किये काम कम हैं। फिर भी उन्होंने जितना किया है सब ऐ...
Mohitness {मोहितपन} · 3W ago

इंटरनेटिया बहस के मादक प्रकार (व्यंग लेख) #ज़हन

दो या अधिक लोगों, गुटों में किसी विषय पर मतभेद होने की स्थिति के बाद वाली चिल्ल-पों को बहस कहते हैं। वैसे कभी-कभी तो विषय की ज़रुरत ही नहीं पड़ती है। दूसरी पार्टी से पुराने बैकलॉग की खुन्नस ही...
Mohitness {मोहितपन} · 1M ago

माँ सरस्वती की शिष्या: स्वर्गीय गिरिजा देवी

1949 में आकाशवाणी, इलाहाबाद में अपनी पहली सार्वजनिक प्रस्तुति देने के बाद, पिछले लगभग सात दशकों से विश्वभर में हिंदुस्तानी शास्त्रीय-उपशास्त्रीय संगीत का परचम में लहरा रहीं पद्म विभूषण गायिक...